Category: Hindi Shayari

Hindi-shayari

Shayri Part 43

दोस्ती करना हर किसी के बस की बात नहीं है, दोस्ती वो ही कर सकता है जो दिल का अमीर हो !! ******* प्यार में लोग बहुत मजबूत हो जाते है, और बहुत कमजोर भी, मजबूत इतने की सारी दुनिया से लड़ जाते है, कमजोर इतने की, सिर्फ […]

Shayari part 42

मैं और मेरी तन्हाईदोनों खुश है। 😊 ******* इजाज़त हो तो मांग लूँ तुम्हेंसुना हैं तक़दीर लिखी जा रही है।  ******* समंदर को ढूँढती है ये नदी जाने क्यूँ,पानी को पानी की ये अजीब प्यास है!! ******* मुझे महँगे तोहफ़े बहुत पसंद है …अगली बार यूं करना …ज़रा […]

Shayri Part 41

उड़ा के जो हँस रही हो, मेरे एहसासों के परिंदे….!! पाले थे सिर्फ तुम्हारे ही लिए, ये जान के रोओगी…..!! ******* फैसला उसने लिखा, पर कलम मैंने तोड़ दी….!! आज हमारे प्यार को, हाय “फाँसी” हो गई….!! ******* ये बात किसने उड़ाई की मुझे इश्क है तुमसे.. हाँ, […]

Shayari Part 40

बिखर जाने के बाद भी नई शुरुआत हो सकती है, ख़ामोश रह कर भी मुहब्बत की बात हो सकती है । #अख़्तर_खत्री ******* तुम्हारी तपिश से पिघल जाए वजूद ये हमारा कभी तो निगाहों से तुम हमको ऐसे छुआ करो। ******* कद बढ़ा नहीं करते ,ऐड़ियां उठाने से, […]

रोशन है

तसव्वुर से उस के मेरा आशियाँ रोशन है, जैसे की इस सेहरा में एक दरिया रोशन है । कल की फ़िक्र क्यूं करेगा, अंधेरों में भी वो, उस गरीब के चूल्हे में तो आसमां रोशन है । पुकार लेती है अपनी मां को अक्सर दर्द में, दुल्हन के […]

कभी खुद से भी मिला कीजिये…

न चादर बड़ी कीजिये, न ख्वाहिशें दफन कीजिये, चार दिन की ज़िन्दगी है, बस चैन से बसर कीजिये… न परेशान किसी को कीजिये, न हैरान किसी को कीजिये, कोई लाख गलत भी बोले, बस मुस्कुरा कर छोड़ दीजिये… न रूठा किसी से कीजिये, न रूठा किसी को रहने […]

Shayri Part 39

बहुत सरल है, किसी को पसंद आना, कठिन तो है, हमेंशा पसंद बने रहना। ******* “तुम मुझे अब याद नहीं आते… तुम मुझे याद हो गये हो अब……!! ******* आज दिल चाह रहा है इतना मुस्कुराऊँ कि रोने लग जाऊं. ******* “खो” देते हैं, फिर… “खोजा” करते हैं, […]

Shayri Part 38

नादान आईने को क्या खबर, कि, एक चेहरा, चेहरे के अन्दर भी होता है…। ******* बदल दिए हैं हमने….अब नाराज होने के तरीके रूठने की बजाय..बस हल्के से मुस्कुरा देते हैं…। ******* भिड मे जिने की आदत नही मुजे थोडे मे जिना सिख लिया है मेने….. चन्द दोस्त […]

Shayri Part 37

तुम अपने ज़ुल्म की इन्तेहा कर दो,… फिर तुम्हें शायद कोई हम सा बेज़ुबाँ मिले ना मिले… ******* ये कश्मकश है ज़िंदगी की…कि कैसे बसर करें …… चादर बड़ी करें या …ख़्वाहिशे दफ़न करे….. ******* उनका इल्ज़ाम लगाने का अन्दाज़ इतना गज़ब था….. कि हमने खुद अपने ही […]

निदा फाजली नहीं रहे..

भारत के मशहूर हिंदी – उर्दू कवि मुक्तिदा हसन ‘निदा फाजली’ नहीं रहे. १२ अक्टूबर, १९३८ को जन्मे ये कविराज आज, ८ फरवरी, २०१६ को खुदा को प्यारे हो गये. वे ७७ साल के थे. हमने उनकी अनेक गज़ल जगजीत सिंघ द्वारा सुनी है, आज जगजीत जी की […]

Shayri Part 35

अल्फ़ाज़ के कुछ तो कंकर फ़ेंको, यहाँ झील सी गहरी ख़ामोशी है। ******* धीरे धीरे बहुत कुछ बदल रहा है… लोग भी…रिश्ते भी…और कभी कभी हम खुद भी…. ******* जागना भी कबूल हैं तेरी यादों में रात भर, तेरे एहसासों में जो सुकून है वो नींद में कहाँ […]

Gujarati Shayri & Kavita Part 5

કોઈ પોતાનું પોતાનાને ના સમજી સકે, ત્યારેજ કોઈ પોતાનું પારકાને પોતાના બનાવવા મથતું હોય છે….. ******* કારણ ન શોધ તું હસવા માટે, જીવન ટુંકું છે આ રડવા માટે. નાના નાના સુખોથી સજાવી, ઇન્દ્રધનુષ નવુંજ ઘડવા માટે. ઉઠ, ઉભો થા, ને આગળ વધ, ઠોકર બની નથી, નડવા માટે. છે […]

Gujarati Shayri & Kavita Part 4

નથી કરતો નશો કેમકે મદિરા દુઃખી થશે, મારા હોઠને સ્પર્શતા જ એને વેદના ચડી જશે. હાર્દ ******* વહી રહી છે લાગણીયો હવે પાણી ની માફક, પ્રેમના કદરદાન તારી આ અદા છે કૈક ઘાતક. હાર્દ ******* આજ સૂરજને પણ ટાઢ લાગી છે, રોજ ધોમ ધકતો આજે ટાઢોબોર લાગે છે. […]

Gujarati Shayri & Kavita Part 3

માણસ એક એવો ખજાનો છે, જેને ન ખોલીએ તો જ મજાનો છે. ******* આમ ને આમ તો મારે ક્યા સુધી સેહવુ… તારુ હોવુ ઓનલાઇન ને મારે એને જોતા રેહવુ… ******* હથેળી તારા હાથ માં સોપી દીઘી છે જ્યારે; હવે હસ્તરેખાઓ જોવા ની ક્યાં જરુર છે મારે…!! ******* એ […]

Gujarati Shayri & Kavita Part 2

તું ભલે હથિયાર માફક વાપરે, આમ એને લાગણી કહેવાય છે. ******* સમજુતી કરી લીધી છે મેં મારા ભોળા અંતર સાથે, વાતો કરવી ફૂલો સાથે, મૂંગા રહેવું પત્થર સાથે. ******* મને તો એકલા રેતા પણ નથી આવડ્યુ…. દિવસે દુનીયા વચ્ચે જીવી લવ છુ રાત્રે યાદો સંગાથે… ******* મિટાવે પ્યાસ […]

Shayri Part 34

ना चाहते हुवे भी साथ छोड़ना पड़ा,, जनाब मज़बूरी मोहब्बत से ज्यादा ताकतवर होती है… ******* गलतियाँ भी इश्क़ की तरह होती हैं… करनी नहीं पड़ती…हो जाती हैं…!! ******* सुनो..”ऐ जान” मुझे सिर्फ़ इतना बता दो.. इंतज़ार करूँ..या..ख़ुद को मिटा दूँ…?? ******* “तुम पर भी यकीन है और […]

Shayri Part 33

काश में लोट जाऊ उन बचपन की गलियों में …. जहा ना कोई जरुरत थी ..और ना ही कोई जरुरी था ….. ******* मुझे तुम अच्छी या बुरी नहीं लगती …………. मुझे तुम सिर्फ मेरी लगती हो ….!!!! ******* तलाश सिर्फ सुकून की होती हैं, नाम रिश्ते का […]

કળિયુગ ઝંખે ગાંધી આવે, પાછી એવી આંધી આવે.

મોહનદાસ કરમચંદ ગાંધી (ગાંધી બાપુ) ના જન્મ દીવસે શબ્દ ઉજવણી “કવિ સેના” ગૃપ ના નાના મોટા કવિઓ દ્વારા – હવે અવતરશો તમે કોઇ ગોડસે ના ઘરમાં, આ દેશ પ્લાસ્ટિકના ગાંધીઓથી ખીચોખીચ છે.. – પ્રવિણ જાદવ અમે તો બાપુની વિધાપીઠમા વસનારા એના વિચારોને જીવનમા પાડનારા પછી તે પહેરવેશ હોય […]

Shayri Part 32

यूँ तो शिकायते तुझ से सैंकड़ों हैं मगर , तेरी एक मुस्कान ही काफी है सुलह के लिये.. ******* इतना भी हमसे नाराज़ मत हुआ करो, बदकिस्मत ज़रूर हैं हम मगर बेवफा नहीं। ******* तुम पुछो और मैं ना बताऊँ, अभी ऐसे हालात नहीं…… बस एक छोटा सा […]

Shayri Part 31

चलो अच्छा हुआ, जो तुम मेरे दर पे नहीं आए , तुम झुकते नहीं, और मै चौखटें ऊंची कर नही पाता … ******* समेट कर रखे ये कोरे पन्ने एक रोज बिखर जाएंगे … जिंदगी तेरे किस्से खामोश रहकर भी बयां हो जाएंगे… ******* कोई अजनबी ख़ास हो […]

Shayri Part 30

मैं हँसता हूँ तो बस अपने गम छिपाने के लिए,… और लोग देख के कहते हैं काश हम भी इसके जैसे होते…… ******* क्या हुआ अगर हम किसी के दिल में नहीं धङकते ….? आँखों में तो बहुतो के खटकते हैं ….!!! ******* “कर लेता हूँ बर्दाश्त हर […]

Shayri Part 29

जिंदगी में सबसे ज्यादा दर्द ‘दिल’ टूटने पर नहीं, ‘यकीन’ टूटने पर होता है..! ******* बादल चाँद को छुपा सकता है आकाश को नही……. हम सबको भुला सकते है आप को नही… ******* चाहा था मुक्कमल हो मेरे गम की कहानी, मैं लिख ना सका कुछ भी, तेरे […]

Gujarati shayri & Kavita

સમયને અને યાદોને વર્ષો સાથે ક્યાં સંબંધ છે, તારા ગયાની એ ક્ષણ હજુ હૃદયમાં અકબંધ છે .. -દીપા સેવક. ******* તારા બે ચહેરા જોયા પછી આ એકલતા જ પસંદ છે મને, જે પોતાનો માની કહ્યા’તા કદી… એ શબ્દોનો રંજ છે મને.. -દીપા સેવક. ******* જિંદગી ના અનુભવો કેહતા […]

Shayri Part 27

चाँद पे दाग होना तो एक बहाना था… इसका असली मकसद मेरे यार को सबसे खूबसूरत बताना था… ******* ख़ुदा ने लिखा ही नहीं तुझको मेरी क़िस्मत में शायद… वरना खोया तो बहोत कुछ था एक तुझे पाने के लिए !!!!…. ******* जो चीज़ मेरी है उसे मेरे […]

Shayri Part 26

फ़िक्र तो तेरी आज भी करते है… बस जिक्र करने का हक नही रहा… ******* इक़ दर्द छुपा हो सीने में तो मुस्कान अधूरी लगती है, जाने क्यों बिन तेरे,मुझuको हर शाम अधूरी लगती है… ******* छीन लेता है हर चीज मुझसे ए खुदा, क्या तू भी इतना […]

Shayri Part 25

दहेज़ में बहु क्या लायी… ये सबने पूछा… लेकिन एक बेटी क्या क्या छोड़ आई… किसी ने सोचा ही नहीं… ******* “हमारी गलतियों से कही टूट न जाना, हमारी शरारत से कही रूठ न जाना तुम्हारी चाहत ही हमारी जिंदगी हैं इस प्यारे से बंधन को भूल न […]

Shayri Part 24

तुम मेरे पास थे ..हो.. और रहोगी… ख़ुदा का शुक्र है यादों की कोई उम्र नहीं होती.. ******* औकात क्या है तेरी, ए जिँदगी चार दिन कि मुहोब्बत तुझे तबाह कर देती है… ******* इतनी क्या जल्दी है मुझे छोड़ने की , अभी तो हद बाकी है मुझे […]

…अधूरी लगती है,

इक़ दर्द छुपा हो सीने में, तो मुस्कान अधूरी लगती है, जाने क्यों बिन तेरे, मुझको हर शाम अधूरी लगती है, कहनी है तुमसे दिल की जो, वो बात जरुरी लगती है, तेरे बिन मेरी गज़लों में , हर बात अधूरी लगती है, दिल भी तेरा हम भी […]

Shayri Part 23

तुमने तो फिर भी सीख लिए दुनिया के चाल चलन… हम तो कुछ भी ना कर सके बस मुहब्बत के सिवा !! ******* न ज़ख्म भरे, न शराब सहारा हुई., न वो वापस लौटीं, न मोहब्बत दोबारा हुई.. ******* ये लाली, ये काजल, ये जुल्फें भी खुली खुली […]

Shayri Part 22

हमारे दरमियाँ कुछ तो रहेगा चाहे वो फ़ासला ही सही … ******** सरकार ढूंढ-ढूढ कर सिर्फ “काले धन” वालो को ही पकड़ रही है.. “काले मन” वाले निश्चिन्त रहें…. ******* उस शक्श से फ़क़त  इतना सा ताल्लुक हैं मेरा !! वो परेशान होता है तो मुझे नींद नही […]

Shayri Part 21

ये बात और है कि इज़हार ना कर सकेँ.. नहीँ है तुम से मोहब्बत..भला ये कौन कहता है. ******* हजारो बार ली हैं तलाशियाँ तुमने मेरे दिल की, बताओ कभी कुछ मिला है तुम्हारे सिवा !!!! ******** क्या ऐसा नहीं हो सकता हम प्यार मांगे.. और तुम गले […]

Shayri part 20

फिर उसने मुस्कुरा के देखा मेरी तरफ़ फिरएकज़रा सीबातपरजीनापड़ामुझे। ****** तू बिन बताये मुझे ले चल कहीं….. जहाँ तू मुस्कुराये मेरी मंजिल वहीं…!! ******** हकीक़त कहो तो उनको ख्वाब लगता है .. शिकायत करो तो उनको मजाक लगता है… कितने सिद्दत से उन्हें याद करते है हम …………. […]

Shayri part 19

पुरानी होकर भी खास होते जा रही है, मोहब्बत बेशरम है बेहिसाब होते जा रही है। ******** कमबख्त इस दिल को हारने की आदत हो गयी है! वरना हमने जहाँ भी दिमाग लगाया फ़तेह ही पाई है!! ******** उसने रात के अँधेरे में मेरी हथेली पे नाजुक सी […]

Shayri part 18

Maut pe bhi mujhe Yakeen hai, Tum per bhi Aitbar hai, Dekhna hai pehle kaun Aata hai, Humien dono ka Intizar hai… ******** Hazaron aib he mujh me,,mujhe maloom he lekin… koi ek shaks he aisa,,, jo mujhe anmol kehta he… ******** Ye Doriyan To Mita Doon Mein […]

Shayri part 17

ऐसी तकदीर न पाई थी कि तुमको पा सकता… ऐसी याद्दाश्त न मिली थी कि तुमको भुला सकता.. ******* कोई वादा ना कर, कोई ईरादा ना कर! ख्वाईशो मे खुद को आधा ना कर! ये देगी उतना ही, जितना लिख दिया खुदा ने! इस तकदीर से उम्मीद ज़्यादा […]

Shayri part 15

Pahle “TOOT Ke CHAHNA” or Fir Khud “TOOT Jana…Baat To Choti Si hai Dosto…Magar “JAANLEWA” Hai. ********* Ek Mehboob Laaparwah Ek Mohabbat Bepanah.. !! Dono kafi Hain Sukoon Brbad Karne Ko… ********* Yeh maana k tumse na mil paayenge hum, Magar yaad rakhna ki yaad aayenge hum. ********* […]

Shayri part 16

कभी मंदिर पे बैठते हैं कभी मस्जिद पे …!! ये मुमकिन है इसलिए क्योंकि परिंदों में नेता नहीं होते ….!! ******** आज भी ये बात हम समझ ही नहीं पाते हैं !! मुट्ठी जितने दिल में कैसे ज़माने के गम समाते हैं ? ******** कीसी से भी अपनी […]

Shayri part 14

“बिखरने दो होंठों पे हंसी के फुहारों को दोस्तों, प्रेम से बात कर लेने से जायदाद कम नहीं होती….! ******** आइना तेरी भी हालत अजीब है मेरे दिल की तरहा!!!!!!! तुझे भी बदल देते है ये लोग तोड़ने के बाद…..!!! ******** मिल जायेंगा हमें भी कोई टूट के […]

Shayri part 12

“गरीबी आदमियों के कपडे उतार लेती है और अमीरी औरतों के ……!!! ******* नमक स्वाद अनुसार। अकड औकात अनुसार। ******** लगी है मेहंदी पावँ में क्या घूमोगे गावं मे… असर धूप का क्या जाने जो रहते है छावं मे…!! ******** बहुत आसान है पहचान इसकी अगर दुखता नहीं […]

Shayri part 11

वक़्त रहते संभाल लो मुझे कहीं तुम मुझे खो दो और तुम्हे खबर भी न हो ! ******** मेरे पिठ पे जो जख्म हे वो दोस्तो कि निशानी हे…, वरना सिना तो आज भि दुश्मनो के इण्तजार मे बेठा हे….! ******** अपने शब्दों में ताकत डालें आवाज में […]

Shayri part 10

Maut se pehle bhi ek maut hoti hai Dekho tum kisi apne se judaa hokar ******* Bahel jaaoge tum gam sunkar mere kabhi dil gam se gabhraaye to kahena.. ******** Kitna mushkil hei zindagi ka ye safar… Khuda ne marna haram kiya, logo ne jina… ******** Akhir Zindagi […]