Day: April 8, 2014

एक चिड़िया और चिड़ा की प्रेमकहानी

एक दिन चिड़िया बोली – मुझे छोड़ कर कभी उड़ तो नहीं जाओगे ? चिड़ा ने कहा – उड़ जाऊं तो तुम पकड़ लेना. चिड़िया-मैं तुम्हें पकड़ तो सकती हूँ, पर फिर पा तो नहीं सकती! यह सुन चिड़े की आँखों में आंसू आ गए और उसने अपने […]

मुश्किलें जरुर है, मगर ठहरा नही हूँ मैं.

मुश्किलें जरुर है, मगर ठहरा नही हूँ मैं. मंज़िल से जरा कह दो, अभी पहुंचा नही हूँ मैं. कदमो को बाँध न पाएंगी, मुसीबत कि जंजीरें, रास्तों से जरा कह दो, अभी भटका नही हूँ मैं. सब्र का बाँध टूटेगा, तो फ़ना कर के रख दूंगा, दुश्मन से […]

… नहीं होती

करो सोने के सौ टुकडे तो क़ीमत कम नहीं होती, बुज़ुर्गों की दुआ लेने से इज्ज़त कभी कम नहीं होती. जरूरतमंद को कभी देहलीज से ख़ाली ना लौटाओ, भगवन के नाम पर देने से दौलत कम नहीं होती.. पकाई जाती है रोटी जो मेहनत के कमाई से, हो […]

मेरी आदत नही

किसी को तकलीफ देना मेरी आदत नही बिन बुलाया मेहमान बनना मेरी आदत नही मैं अपने गम में रहता हूँ नबाबों की तरह परायी ख़ुशी के पास जाना मेरी आदत नही सबको हँसता ही देखना चाहता हूँ मै किसी को धोखे से भी रुलाना मेरी आदत नही बांटना […]

ईमानदारी का इनाम

इस साल मेरा सात वर्षीय बेटा दूसरी कक्षा मैं प्रवेश पा गया ….क्लास मैं हमेशा से अव्वल आता रहा है ! पिछले दिनों तनख्वाह मिली तो मैं उसे नयी स्कूल ड्रेस और जूते दिलवाने के लिए बाज़ार ले गया ! बेटे ने जूते लेने से ये कह कर […]