Day: April 5, 2014

Shayri part 11

वक़्त रहते संभाल लो मुझे कहीं तुम मुझे खो दो और तुम्हे खबर भी न हो ! ******** मेरे पिठ पे जो जख्म हे वो दोस्तो कि निशानी हे…, वरना सिना तो आज भि दुश्मनो के इण्तजार मे बेठा हे….! ******** अपने शब्दों में ताकत डालें आवाज में […]